28 August, 2016

तस्वीर पर रचनाएं

मैं भारत माँ की कोख से जन्मा, भारत माँ का ही दूध पिया हैं
मेरी भारत माँ की ममता देखो, कभी सियार ने भी दूध पिया है
मुझे माँ के दूध की कसम, लाज रखी ना जिनने दूध की उन्हें मिटाना है
सोच पाकिस्तान तेरा क्या होगा अब, तूने भी माँ का दूध पिया हैं

नरेन्द्र कुर्मी मस्ताना
९४२५८६२०८२
बरेली
उत्तरप्रदेश

Loading...