25 दिसंबर, 2011

आप के स्नेह और सहयोग के प्रतीक्षा में ..................

आप लोगो के सहयोग से हमारी टीम अपनी ५ वी वर्षगाठ मना रही है | इस सुअवसर पर आप को हार्दिक बधाई और शुभकामनाये ! 
आप के स्नेह और सहयोग के प्रतीक्षा  में ...................




2 टिप्‍पणियां:

  1. "जन्मदिन भी अजीब होते हैं,
    लोग तोहफ़ो के बोझ ढोते हैं,
    कितनी अजीब बात है लेकिन,
    पैदा होते ही बच्चे रोते हैं!"

    उत्तर देंहटाएं

अपने अमूल्य सुझावों से मेरा मार्गदर्शऩ व उत्साहवर्द्धऩ करें !