06 अक्तूबर, 2015

एस्ट्रोलॉजर निर्मला सेवानी और गूगल बॉय मनन सूद को 'अवंतिका स्वर्णिम भारत सम्मान 2015' से सम्मानित किया जाएगा ।


निर्मला सेवानी जी 
एस्ट्रोलॉजर निर्मला सेवानी और गूगल बॉय मनन सूद को 'अवंतिका स्वर्णिम भारत सम्मान 2015' से 10 अक्टूबर 2015 को दिल्ली के राष्ट्रीय सम्मेलन मे सम्मानित किया जाएगा । अतीन्द्रिय ज्ञान के धनी व्यक्तित्वों में एक प्रमुख नाम जयपुर की निर्मला सेवानी जी का भी है। वह महज आवाज सुनकर जीवन का हाल बता देती हैं। बात कुछ अटपटी जरूर है, पर है बिलकुल सच। निर्मलाजी ने मात्र 13 साल की उम्र में पहली भविष्यवाणी कर दी थी। वह 1989 से यह कार्य कर रही हैं, लेकिन 1991 से उन्होंने इसे व्यावसायिक तौर पर अपना लिया है। ज्योतिष के क्षेत्र में निर्मला सेवानी जी ने बहुत प्रसिद्धि हासिल की है। वह अपने जयपुर, दिल्ली आदि कार्यालयों में लोगों से घिरी रहती हैं। उनके बारे में लोगों की यह धारणा है कि वे आत्मविश्वास से भरपूर हैं तथ व्यक्ति की आवाज सुनकर उसका भविष्य कथन करने में उन्हें महारथ हासिल है। निर्मला जी जन्मपत्री भी देखती हैं, लेकिन उसके अभाव में वह आवाज सुनकर भविष्य के बारे में बताना शुरू कर देती हैं। उनको इस अनोखी प्रतिभा के लिए ही यह सम्मान देने की घोषणा की गई है । इसी के साथ जयपुर के गूगल बॉय मनन सूद को उनकी इंटेलिजेंस और स्मार्टनेस के लिए वर्ष 2015 के राष्ट्रीय स्तर पर अवंतिका स्वर्णिम भारत सम्मान के लिए चुना गया है।
मनन सूद 
जयपुर के रूट्स पब्लिक स्कूल के प्रेप क्लास में पढ़ने वाले मनन को यह पुरस्कार उन्हें शॉर्प माइंड अच्छी याददाश्त के लिए नई दिल्ली में 10 अक्टूबर को दिया जा रहा है। मनन को पूरे विश्व का नक्शा मुंहजबानी याद है। वह देश का स्थान और राजधानियां ऎसे बताता है, जैसे वर्णमाला सुना रहा हो। उसे केमिस्ट्री की आवर्त सारणी, सौर मंडल, देशों की मुद्राएं, आविष्कार और किताबों के रचनाकारों के नाम कंठस्थ हैं। इनसे जुड़ा कोई सवाल किसी भी वक्त उससे पूछ सकते हैं। महज चार वर्ष की आयु में जिले का नाम रोशन करने वाले मनन को सभी देशों की राजधानी, सभी आविष्कारों के बारे में जानकारी है किसी भी आविष्कार के वैज्ञानिक का नाम झट से बताता है । 

सादर





एम के पाण्डेय निल्को 

आप मेरे ब्लाग पर पधारें व अपने अमूल्य सुझावों से मेरा मार्गदर्शऩ व उत्साहवर्द्धऩ करें, और ब्लॉग पसंद आवे तो कृपया उसे अपना समर्थन भी अवश्य प्रदान करें! धन्यवाद .........!